रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार


श्री प्रहलाद नारायण मीणा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा द्वारा आज दिनाॅक- 25.09.2019 को पुलिस कार्यालय स्थित सभागार में जनपद के 11 ब्लाॅकों में 3 चरणों में होने वाले (पहले चरण 05.10.2019 को 04 ब्लाॅक ताकुला, धौलादेवी, लमगड़ा एवं हवालबाग, द्वितीय चरण 11.10.2019 को 04 ब्लाॅक चैखुटिया, द्वाराहाट, ताड़ीखेत, भैसियाछाना, तृतीय चरण 16.10.2019 को 03 ब्लाॅक सल्ट, स्यालदे एवं भिक्यिासैण में) त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव- 2019 को निष्पक्ष सम्पन्न कराने हेतु पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की गयी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा ने बताया कि पंचायत चुनाव को शान्तिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराने हेतु जनपद को 100 सेक्टर एवं 21 जोन में विभाजित किया गया है। अवाॅछनीय गतिविधियों को रोकने हेतु पुलिस द्वारा 14 बैरियर बनाते हुए 32 मोबाईल पार्टियाॅ लगाई गयीं हैं। प्रत्येक थाना क्षेत्र में चुनाव के दौरान 03 मोबाईल पार्टियाॅ लगातार पैट्रोलिंग पर रहेंगीं। चुनाव में पुलिस, पी0ए0सी0, होमगार्ड, पी0आर0डी0 एवं ग्राम प्रहरियों को लगाया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा द्वारा चुनाव के दौरान संचार व्यवस्था को दुरूस्त रखने हेतु सभी ब्लाक मुख्यालयों को डिस्ट्रिक्ट कन्ट्रोल रूम व सम्बन्धित थानों से जोड़ने एवं सभी सैक्टर व जोनल मजिस्ट्रेटों को वायरलेस सैट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये हैं। इसके अतिरिक्त ऐसे पोलिंग स्टेशन जहाॅ पर संचार (मोबाईल फोन की कनैक्टीविटी) का कोई साधन नहीं है उन्हें चिन्हित कर पोलिंग पार्टी को भी हेन्डहेल्ड सैट प्रदान करने हेतु पुलिस उपाधीक्षक संचार को निर्देश दिये गये। कर्मचारियों को चुनाव के दौरान खाने की किसी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए सभी ब्लाॅक मुख्यालय में मैस की व्यवस्था करने के निर्देश दिये । पंचायत चुनाव के दौरान असामाजिक तत्वों एवं आपराधिक छवि के लोगों द्वारा जनता को भयभीत करने वाले/किसी के पक्ष में जबरदस्ती मतदान करने हेतु दबाव बनाने/मतदाताओें को प्रभावित करने वालों/चुनाव में गड़बडी करने वालों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करने तथा शस्त्रों को जमा करवाने के निर्देश दिये । चुनाव से सम्बन्धित कोई भी सूचना /शिकायत प्राप्त होने पर शिकायतों को गम्भीरता पूर्वक सुनने व तत्परता से प्रभावी कार्यवाही करने एवम चुनाव के दौरान मादक पदार्थो (कच्ची शराब) एवं अन्य प्रदेशों से तस्करी कर लाई गयी शराब के वितरण को रोकने हेतु कड़े निर्देश दिये गये। कच्ची शराब/अवैध शराब की बरामदगी हेतु छापेमारी, गिरफ्तारियों हेतु अभियान चलाकर कार्यवाही करने निर्देशित किया गया।
Share To:

Post A Comment: