मुरादनगर मे बंदरो का आंतक अब तक ना जाने  कितनी जान जा चुकी है बंदरो की वजह से :- महताब पठान 

मुरादनगर ( युसुफ चौधरी ) । जनपद गाजियाबाद के मुरादनगर मेंं बंदरों का आतंक मौत का पर्याय बन चुका है । इसकी शिकायत कई बार मुरादनगर के वरिष्ठ समाजसेवी व कांग्रेसी नेता महताब पठान उच्च अधिकारियों से कर चुके हैं । इस तरफ नगर पालिका परिषद मुरादनगर भी कोई ध्यान नहीं दे रहा है ।जिससे आए दिन हादसों का डर बना रहता है । कई बार तो बंदर बुजुर्गों व बच्चों  के काट भी लेते हैं । वरिष्ठ समाजसेवी कांग्रेस मेहताब पठान ने बताया कि कुछ वर्ष पहले  मुरादनगर के सरकार से सम्मानित गोताखोर बल जोरा पहलवान को  बंदरों ने छत से नीचे गिरा दिया था । जिसके कारण उनकी मौत हो गई । अभी पिछले हफ्ते बंदरों को भगाने के चक्कर में एक युवक बिजली के हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गया था । जो दिल्ली में जिंदगी और मौत से जूझ रहा है । उन्होंने कहा है कि संबंधित अधिकारियों को बंदरों से निजात दिलाने के लिए  जिला प्रशासन आदेश जारी कर मुराद नगर वासियों को बंदरों के आतंक से निजात दिलाने की मेहरबानी करे ।
Share To:

Post A Comment: