गाजियाबाद। गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय ने कार्यभार ग्रहण करने के उपरान्त खोडा क्षेत्र की समस्याओं के समाधान को प्राथमिकता पर लिया है । खोडा क्षेत्र की समस्याओं को सुनने के लिए नियमित मजिस्ट्रेट की तैनाती उनके द्वारा की गयी है । साथ ही पुलिस क्षेत्राधिकारी एवं गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के अधिकारियो को भी नियमित रूप से समस्याओ के समाधान के लिए उपस्थित रहने की प्रक्रिया शुरू की है । इसी श्रृंखला में खोडा क्षेत्र के नियमित विकास के लिए व चल रही अवैध गतिविधियो को रोकने के लिए नोयडा विकास प्राधिकरण को जिम्मेदारी सौपने का अनुरोध भी शासन से किया है । जिलाधिकारी ने उत्तर प्रदेश सरकार , उद्योग अनुभाग - 2 द्वारा  अधिसूचना जरी की गई थी । जिसमें साफ निर्देश है कि गाजियाबाद जिले में दादरी तहसील के नीचे अनुसूची में उल्लिखित ग्राम औद्योगिक विकास क्षेत्र होंगे जो " न्यू ओखला औद्योगिक विकास क्षेत्र " का अंश होगा । इस अनुसूची के 45 वे क्रमांक पर खोडा का भी उल्लेख है तथा क्षेत्रफल 1054 एकड अंकित है । जिलाधिकारी ने शासन से अनुरोध किया है कि इस अधिसूचना के आधार पर नोयडा विकास प्राधिकरण को खोडा क्षेत्र क लिए अपनी गतिविधियां संचालित करने के लिए निर्देशित किया जाये । जिलाधिकारी ने तीन विकल्पो का भी सुझाव दिया है।  खोडा - मकनपुर के क्षेत्र को विनियमित क्षेत्र घोषित किया जाये । अधिसूचना के अनुपालन में नोयडा विकास प्राधिकरण को यह निर्देशित किया जाये कि वह इस क्षेत्र के विकास सम्बन्धी समस्त प्रकार की गतिविधियो को संचालित करें । वर्तमान में यह क्षेत्र जनपद गाजियाबाद में स्थित है । इसे गाजियाबाद विकास प्राधिकरण क्षेत्र में सम्मिलित कर लिया जाये ।
Share To:

Post A Comment: