रिपोर्ट ब्राह्मनंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार

चाहे तेज बरसात हो, अंधेरा हो, ठंड हो, हम खड़े है आपकी सुरक्षा में, इस कहावत को पूर्ण किया है Uttarakhand Police के जवानों ने। अपने स्वास्थ्य की चिंता न करते हुए मित्र पुलिस ने निभाई मानवता।
श्रीकांत गुप्ता, उम्र 22 वर्ष, निवासी छत्तीसगढ़, चमोली में श्री बद्रीनाथजी के दर्शन करने हेतु अपने साथियों के साथ आये हुए थे। वह 27 सितम्बर को नीलकंठ ट्रेकिंग पर अकेले ही निकल गये और वापस नहीं आये, इसकी सूचना उनके साथियों द्वारा शाम 07:30 बजे थाना श्री बद्रीनाथ में आकर दी गई और यह भी बताया गया कि मोबाइल द्वारा संपर्क करने पर पता चला है कि वह अंधेरा होने के कारण रास्ता भटक गया है। इस सूचना पर तत्काल कार्यवाही करते हुए थाना पुलिस टीम व SDRF टीम आवश्यक उपकरण के साथ यात्री के रेस्क्यू हेतु रात्रि 09:45 बजे मौके पर पहुंची और यात्री को सकुशल बरामद कर फर्स्ट एड दिया गया।
पुलिस टीम द्वारा 20 किमी का पैदल सफर तेज बरसात, अत्यधित ठंड एवं अंधेरा होने के बावजूद मात्र 03:30 घण्टे में तय कर यात्री को रेस्क्यू कर वापस थाना श्री बद्रीनाथ लाया गया। रात्रि 11:00 बजे पुलिस द्वारा ट्रेकर को सकुशल उनके परिजनों के सुपुर्द किया गया। सभी यात्रियों द्वारा chamolipolice एवं SDRF की टीम द्वारा किये गये इस मानवीय कार्य के लिए धन्यवाद किया गया।
Share To:

Post A Comment: