क्षेत्रीय लोक संपर्क ब्यूरो मेरठ द्वारा पोषण के विषय में जागरूकता बढ़ाने के लिए एकीकृत संचार एवं लोक संपर्क कार्यक्रम का आयोजन । 
गाजियाबाद। जनपद गाजियाबाद ब्लाक भोजपुर के कलछीना गांव के राजकीय कन्या इंटर कॉलेज के प्रांगण में क्षेत्रीय लोक संपर्क ब्यूरो मेरठ द्वारा पोषण के विषय में जागरूकता बढ़ाने के लिए एकीकृत संचार एवं लोक संपर्क कार्यक्रम का आयोजन किया गया । जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर मोदीनगर विधायक डॉ मंजूं शिवाच ने प्रांगण में मौजूद सभी को कुपोषण के बारे विस्तार से बताया । सभी आए कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने शब्दों में पोषण के विषय में सभी को जागरूक किया। ग्राम प्रधान पति हाजी आरिफ एडवोकेट ने भी अपने शब्दों में  ग्राम को कुपोषण से मुक्त करने के लिए कहा तथा अपने गांव को साफ स्वच्छ रखने के लिए ग्रामीणों से अपील की । कॉलेज की प्रधानाचार्य नूतन शर्मा  ने पुष्प गुच्छ देकर मुख्य अतिथि का स्वागत किया व क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी मेरठ शिवानंद पांडे ने मुख्य अतिथि को शॉल ओढाकर मुख्य अतिथि का स्वागत किया । इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में क्षेत्रीय विधायक डॉ मंजू सिवाच ने कार्यक्रम के माध्यम से पोषण के विषय में ग्रामीणों व बच्चों को बहुत सारी जानकारियां दी । इन्होंने बताया की 6 माह तक के बच्चे के लिए मां का दूध अति उत्तम होता है। 6 माह से ऊपर के बच्चे को खिचड़ी, दलिया व सूजी की खीर देनी चाहिए । जिसमें प्रोटीन की मात्रा सर्वाधिक होती है । इन्होंने दालों में प्रोटीन का अधिक होना बताया । उन्होंने कहा कि हरी सब्जी खाने से हमारा दिमाग तेज होता है । हरी सब्जी में सभी प्रोटीन होते हैं जो की हमें पढ़ने और बड़ने के लिए ताकत प्रदान करते हैं । उन्होंने बताया कि हमें 20 साल की उम्र तक देसी घी जरूर लेना चाहिए । लेकिन उसकी मात्रा प्रतिदिन 20 ग्राम हो । देसी गाय के देसी घी को उत्तम बताया । अक्सर लोग मट्ठे को फेंक देते हैं लेकिन डॉक्टर मंजू सिवाच ने मट्ठे को प्रोटीन का सबसे बेहतरीन स्रोत बताया । भुना हुआ आलू और भुनी हुई शकरकंदी खाने से हमारे शरीर में  ताकत बनती है। मेथी खाने से हमारे नए सेल्स की उत्पत्ति होती है जो कि हमारे बाल और स्किन के लिए बढ़िया होते हैं । उन्होंने बताया की हमें अपने घर में मेथी पालक हरी सब्जी बोनी चाहिए। शिवानंद पांडे ने मुख्य अतिथि डॉक्टर मंजू सिवाच का धन्यवाद दिया। गाजियाबाद से आई नूमान सिने नेटवर्क गाजियाबाद के नाम से नाटक मंडली ने पोष्टिक आहार के ऊपर एक नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया । नाटक के माध्यम से बताया गया कि चिली पटेटो,समोसा,चाऊमीन,कुरकुरे, चिप्स से पेट खराब होता है । यह पोस्टिक आहार नहीं है इन्हें लेने से हम लोग कुपोषण के शिकार होंगे। जंक फूड खाने से सेहत खराब होती है शुद्ध चीजें खाओ स्वस्थ रहो सुंदर रहो। नुमान सिने  नेटवर्क गाजियाबाद से आए नाटक मंडली के रमजान अख्तर, साकिर मिर्जा, साजिद खान, प्रिंस मिश्रा, श्याम शर्मा, गायत्री पाठक, दिलशाद अहमद, अजय पहलवान व सुल्तान ने सभी दर्शकों का मन मोह लिया। बाद में एक प्रतियोगिता रखी गई जिसमें कुछ सवाल पूछे गए जैसे पोषण अभियान की शुरुआत कहां से और किसने की ? कुपोषण को देखने वाला मंत्रालय कौन सा है ? आदि के सवाल पूछे गए । जिनके जवाब बच्चों ने दिए जैसे पोषण अभियान की शुरुआत राजस्थान के झुंझुनू शहर से माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कि थी । लगभग 35 परसेंट बच्चे कुपोषण के शिकार हैं । महिला एवं बाल विकास मंत्रालय कुपोषण को देखने वाला है आदि जवाब देकर बच्चों ने सबको गदगद कर दिया तथा बच्चों को पुरस्कार भी दिया गया । कार्यक्रम में उपस्थित सभी राजकीय कन्या इंटर कॉलेज की शिक्षिकाएं व आशा बहने तथा आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों का विशेष योगदान रहा ।  कार्यक्रम सुबह 8:00 बजे से 1:00 बजे तक बैठे छात्राओं को चलते वक्त खाने के नाम पर सिर्फ 2-2 केले दिए गए । टेंट कम होने के कारण बच्चों को धूप में भी बैठना पडा । गनीमत रही कि किसी की तबीयत खराब नहीं हुई । 
Share To:

Post A Comment: