फरीदाबाद :- पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के आरोप में राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) ने ग्रेटर फरीदाबाद (सेक्टर-86) स्थित स्मार्ट हाउसिंग प्रोजेक्ट लिमिटेड पर 10 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। एनजीटी के आदेश पर पर्यावरण एवं वन मंत्रालय व राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने सोसायटी का निरीक्षण कर खामियों की रिपोर्ट तैयार की। एनजीटी ने राज्य सरकार व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से कहा है कि स्मार्ट हाउसिंग प्रोजेक्ट लिमिटेड जब तक पर्यावरण के मानकों के अनुरूप कार्य नहीं करता है, तब तक उसे ब्लैक लिस्ट कर दिया जाए। जुर्माने की राशि एक माह में जमा करानी होगी।
Share To:

Post A Comment: