मोदीनगर गाजियाबाद ( हसन खान ) । जनपद गाजियाबाद के ग्राम कलछीना में हाईवे जन जागरण यात्रा को लेकर विशाल जनसभा का आयोजन हाजी आरिफ एडवोकेट के यहां पर किया गया । जिसमें सैकड़ों की संख्या में कलछीना व आसपास एक दर्जन गांव के के किसान मौजूद रहे । कार्यक्रम का की अध्यक्षता चौधरी सत्तार उर्फ गांधीजी ने की । मंच संचालन खूबसूरती  व काबिलियत के साथ मास्टर इरफान ने किया । जनसभा में मुख्य अतिथि अतुल प्रधान रहे । इस अवसर पर किसान नेता बाबू सिंह आर्य टीकम नागर सतीश राठी महेश प्रधान बबली गुर्जर भी मौजूद रहे । वक्ताओं में बोलते हुए बाबू सिंह आर्य ने केंद्र व राज्य सरकार को चोमंजली व डबल इंजन  की सरकार बताया तो वहीं मुख्य वक्ता अतुल प्रधान ने कहा कि यह अघोषित इमरजेंसी की सरकार है या तो सरकार के मनमाफिक काम करो या तुम्हें लाठी-डंडों से पीट-पीटकर अंदर कर दिया जाएगा ।


आरएसएस को राष्ट्र विरोधी व  नाथूराम गोडसे को पहला आतंकवादी बताया । वहीं अतुल प्रधान ने डीएम पर भी विश्वासघात का आरोप लगाया और कहा कि जिस तरह से हमने डीएम के कहने पर धरना खत्म किया और हमारी बात नहीं मानी गई वह बहुत बड़ा विश्वासघात है और आने वाली 4 दिसंबर को ज्यादा से ज्यादा लोगों को गाजियाबाद कलेक्ट्रेट पर इकट्ठा होने का आह्वान किया । अतुल प्रधान ने कहा कि हम लोग अपने हक की लड़ाई लड़ रहे हैं और आखिर में जीत हमारी होगी इस अवसर पर टीकम नागर ने भी अपने विचार रखे और कहा कि अगर हम अब भी खड़े नहीं हुए तो कभी खड़े नहीं होंगे और हमारी आने वाली नस्लें हमें कोसेंगी ।

डॉक्टर बबली गुर्जर ने कहा कि  जिस तरह से  हमारा हम आंदोलन कर रहे हैं  हमारा आंदोलन सफलता की ओर अग्रसर है और हम लोगों को  निराश नहीं होना है लगातार आगे बढ़ते जाना है हम पीछे हटने वाले नहीं हैं और आने वाली 4 दिसंबर को ज्यादा से ज्यादा किसान नौजवान जिला गाजियाबाद इकट्ठे हो जिससे हम दिखा सके कि हमारी संख्या कितनी है । इस अवसर पर ग्रामीणों में मुख्य रूप से हाजी आरिफ एडवोकेट हाजी अल्ताफ हाजी जुल्फिकार परवेज तोमर इस्तकार प्रधान आफताब तोमर नजर मोहम्मद उर्फ नजरू हारून ठेकेदार गुड्डू तोमर गफ्फार तोमर तस्लीम सोनी जी लाला ओमप्रकाश फिरोज चौहान उमरदराज आदि लोग मौजूद रहे ।

और आखिर में कार्यक्रम संयोजक हाजी आरिफ एडवोकेट ने कहा कि जिस तरह से अतुल प्रधान डॉक्टर बबली टीकम नागर सतीश राठी अमरजीत सिंह बिड्डी मंतराम नागर आदि लोग निस्वार्थ किसानों की लड़ाई लड़ रहे हैं तो हम भी पीछे नहीं रहेंगे । बहुत हुआ अब हम किसी के बहकावे में नहीं आना है और अपने हक के लिए 4  दिसंबर को ज्यादा से ज्यादा संख्या में गाजियाबाद पहुंचकर हमें यह दिखाना है कि हम अपने हक के लिए कितने जागरूक हैं । सभी लोगों का जनसभा में आने पर शुक्रिया अदा किया और आगे भी इसी तरह एक साथ एकजुट रहने के लिए कहा ।

Share To:

Post A Comment: