गाजियाबाद। आइआइए चैप्टर आरडीसी के एक होटल में प्रेसवार्ता आयोजित कर भारत सरकार द्वारा सूक्ष्य, लघु एवं मध्यम विरोध की परिभाषा बदलने का विरोध किया। सचिव राकेश अनेजा ने कहा कि आइआइए सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की परिभाषा टर्न ओवर आधारित करने के पक्ष में नहीं है।
उन्होंने कहा कि परिभाषा टर्न ओवर पर आधारित करने से उद्योगों को लाभ होने के बजाए नुकसान होगा। उन्होंने बताया कि आइआइए ने केंद्र सरकार में मंत्री नितिन गडकरी को इस संदर्भ में अपना विरोध पत्र भी भेज दिया है। प्रेसवार्ता में आइआइए के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नीरज सिंघल, एसके शर्मा, जेपी कौशिक, राजीव गोयल, अमित नागलिया, प्रदीप कुमार गुप्ता मनोज कुमार, राजेश अनेजा, संजय गर्ग, साकेत अग्रवाल, यश जुनेजा, प्रमोद जॉन, संजय अग्रवाल, संजय बंसल, नवीन धवन, अनिल कपूर, अमरीक सिंह, अरुण गुप्ता, वीके सिंघल, संजय गोयल, अजय पटेल, नितिन गुप्ता आदि मौजूद रहे।
Share To:

Post A Comment: