बस में टोल से गुजरते ही बैग में रखे फास्टैग से कटा पैसा।

गुुरुग्राम :- मानेसर निवासी रामकुमार अपनी कार के लिए फास्टैग लेकर बस में गुरुग्राम की ओर गया। टोल के नीचे से गुजरते ही उनके बैग में रखे फास्टैग से बैलेंस कट गया। गाड़ियों में फास्टैग को लेकर कुछ ऐसी ही समस्या टोल अधिकारियों के सामने आ रही है। तकनीकी परेशानी को देखते हुए टोल प्रबंधन ने वाहन चालकों को गाड़ी पर फास्टैग चिपकाने का आदेश दिया है। एक दिसंबर से फास्टैग की अनिवार्यता के बाद खेड़कीदौला टोल पर वाहनों की जांच की तैयारी की गई है। जिसमें फास्टैग नहीं चिपकाने पर कार्रवाई की जाएगी। एनएचएआई अधिकारियों के मुताबिक, नियमों के मुताबिक फास्टैग गाडिय़ों पर लगाकर दिए जाना चाहिए। ऐसी परेशानी का विकल्प निकालने की कोशिश की जा रही है।
कार सवार युवक के फास्टैग से भी कटे पैसे
शुक्रवार को खेड़कीदौला टोल प्लाजा से दिल्ली निवासी प्रमोद कुमार दुगड़ अपने दोस्त की कार में दिल्ली की तरफ जा रहे थे। दोस्त की कार के डैशबोर्ड पर उन्होंने अपनी दूसरी कार का फास्टैग रखा हुआ था, टोल पार करते हुए स्वत: उनके फास्टैग से पैसे कट गए। जब उन्होंने टोल कर्मचारियों से शिकायत की तो उन्होंने बताया कि रेडियो फ्रीक्वेंसी के दायरे में आने के बाद पैसे कट गए।
सर्वर हुआ फेल, फास्टैग के लिए मारामारी
शुक्रवार को खेड़कीदौला टोल प्लाजा पर फास्टैग के लिए सुबह से ही लोगों की भीड़ उमड़ी रही। आईडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक के फास्टैग के लिए सर्वर डाउन होने से लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। पेटीएम पर भी फास्टैग के लिए सर्वर डाउन रहने से लोग घंटों तक लाइन में लगे रहें।
हमारे पास ऐसी कई शिकायतें सामने आई है कि किसी ने कार के डैशबोर्ड पर फास्टैग रखा होने की वजह से उसके खाते से पैसे स्वत: कट गए। लोगों से गुजारिश है कि फास्टैग को कार के सामने वाले शीशे पर चिपका लें। एक दिसंबर से टोल पर ऐसे वाहनों की जांच भी कराई जाएगी, जिन्होंने फास्टैग चस्पा नहीं रखा हो।
आरएस भाटी, टोल प्रबंधक,खेड़कीदौला टोल प्लाजा।
Share To:

Post A Comment: