जमीअत उलमा ए हिंद की तरफ से निकाला गया एक राष्ट्र मार्च 
सभी को समान नागरिकता और संरक्षण का दिया नारा 
बड़कली चौक से नगीना तहसील तक 2 किलोमीटर किया प्रदर्शन ।

नगीना । मेवात क्षेत्र के बड़कली चौक शुक्रवार जुमे की नमाज के बाद जमीयत उलेमा ए हिंद के हल्का पदाधिकारियों ने एकजुट होकर एक राज एक नागरिकता के लिए शांति मार्च किया।
इस प्रदर्शन की अगुवाई नगीना जमीयत हल्का के सदर मोहम्मद तय्यब ने की। मुख्य वक्ता के तौर पर मौलवी ताहिर हुसैन ने नेतृत्व किया। सदर तय्यब हुसैन देशभर में जमीयत उलेमा ए हिंद ने शांति मार्च निकालकर सभी को समान नागरिकता और सम्मान देने की केंद्र सरकार से अपील की है। साथ ही नागरिक संशोधन कानून (सीएबी) तथा राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को नहीं लागू करने पर विरोध जताया है बड़कली चौक से लेकर नगीना तहसील तक 2 किलोमीटर चलकर क्षेत्र के सैकड़ों लोगों ने एक ज्ञापन पत्र उप तहसीलदार के मार्फत देश के राष्ट्रपति को सौंपा है।
इस दौरान सामाजिक संगठनों के अलावा बुद्धिजीवी, समाजसेवी और धार्मिक संगठनों के लोग में शामिल रहे। मौके पर मेवात विकास सभा के संयोजक सलामुद्दीन एडवोकेट, मेवात आरटीआई मंच के उपाध्यक्ष कवि इलियास प्रधान, मुबारिक नोटकी, अफजल जलालपुर शामिल रहे।
 एनआरसी व सीएबी के विरोध में एक राष्ट्र मार्च में शामिल जमीयत उलेमा ए हिंद के पदाधिकारी व अन्य
Share To:

Post A Comment: