लोनी । आनंद मोरियल इण्टर कालिज जवाहर नगर मे चल रहे तीन दिवसीय स्काउट कैंप के समापन कार्यक्रम मे पँहुची लोनी नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती रंजीता धामा व पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मनोज धामा । इस शिविर का आयोजन आनन्द मेमोरियल इण्टर कालिज मे हिन्दुस्तान स्काउट एंड गाइड के माध्यम से किया गया ।
कार्यक्रम के आयोजकों द्वारा लोनी नगरपालिका अध्यक्ष रंजीता धामा व पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मनोज धामा का फूल-माला व ढोल-नगाडों के साथ भव्य स्वागत किया ।
इस अवसर पर कैंप की कप्तान माला रानी ने लोनी नगरपालिका अध्यक्ष को जानकारी देते हुये बताया कि कैंप के माध्यम से विद्यालय के बच्चों को ड्रिल, क्लैप, पिरामिड, मार्शल आर्ट, कुंग फू, योगा सहित अन्य प्रकार के खेल व तकनीक की जानकारी दी गयी ।
विधालय की छात्राओं को विशेष रूप से सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग भी दी गयी है जिसको सभी छात्राओं ने बहुत ही ध्यानपूर्वक सीखा । 
इस अवसर पर सभी को संबोधित करते हुये लोनी नगरपालिका अध्यक्ष रंजीता धामा जी ने कहा कि छात्र जीवन प्रत्येक व्यक्ति के जीवनकाल का बहुत ही महत्वपूर्ण समय होता है ये वो समय है जब हम लोग अपने जीवन को लेकर भविष्य के सपने बुनते हैं तथा किस प्रकार से अपने जीवन मे कठिन मेहनत कर जीवन मे कामयाबी की बुलंदियों को छूने का प्रयास किया जाये । उस तरफ भी अथक प्रयास से बढते हैं । मुझे बहुत अच्छा लगा कि कैंप के आयोजकों द्वारा छात्राओं को आत्मरक्षा हेतु ट्रेनिंग दी गयी है ये एक तरह से आज कल बच्चियों के लिये व बढती उम्र की छात्राओं के लिये आज बहुत ही जरूरी हो गया है जिस प्रकार से आज कल समाज मे छोटी बच्चियों व लडकियों के प्रति जघन्य अपराध बढते जा रहे हैं छेड़छाड़ की घटनायें तो आम हो चली है इन सभी को देखते हुये सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग छात्राओं के लिये बेहद जरूरी है सभी को आत्मरक्षा के गुर सीखने चाहिए ताकि समय आने पर आत्मरक्षा की जा सके । 
इस अवसर पर मनोज धामा जी ने भी अपने विचार रखते हुये कहा कि स्काउट कैंप एक बहुत ही अच्छा माध्यम होता है इस शिविर मे आकर प्रत्येक छात्र को बहुत कुछ सीखने को मिलता है होता है हम सभी को हमारे स्काउट टीचर की तरफ से जो भी बातें सिखायी जाये या जिस कला का अभ्यास कराया जाये हम लोगों को बारीकी से नजर रखते हुये उसको निपुणता के साथ सीखना चाहिए।  ये वो कला है जो हमे कंही सीखने को नही मिलती ये केवल स्काउट शिविर मे ही हम लोग सीख सकते हैं । 
मनोज धामा जी ने बताया कि मैंने स्वंय स्काउट कैंप किये हुये है तथा तमान तरह के प्रशिक्षण लिये है मै अपने समय मे हाकी का एक बहुत ही अच्छा खिलाडी रहा हुं स्काउट के माध्यम से ही हम लोग विभिन्न क्षेत्रों मे भी अपना कैरियर बना सकते हैं ।
तमाम तरह के प्रशिक्षण हम लोग स्काउट के माध्यम से सीख सकते हैं । 
कार्यक्रम के समापन पर रंजीता धामा जी ने कैंप मे प्रशिक्षण मे प्रथम, दुतीय, तृतीय स्थान पाने वालो बच्चों को मेडल पहनाकर सम्मानित किया । 
कार्यक्रम के समापन पर आयोजकों द्वारा रंजीता धामा व मनोज धामा जी को स्मृति चिन्ह देकर व शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया । 
इस अवसर पर विधालय के प्रबंधक जगवीर धामा, सभासद मोनू चौधरी, रूपेन्द्र चौधरी, राजीव शर्मा, अजय साहनी, नितिन चौधरी, रोहित झा, बलजिन्दर सिंह, बहादुर सिंह, माला रानी, सहित सैकड़ों की संख्या मे विधालय का अध्यापक परिवार व बच्चे उपस्थित रहे ।
Share To:

Post A Comment: