रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार के साथ में रुड़की से इरफान अहमद की रिपोर्ट
9410563684


नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) को दहला देने वाला निर्भया गैंगरेप (Delhi gang rape) मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों के फांसी की तारीख तय कर दी. कोर्ट ने डेथ वारंट जारी कर दिया है. इन चारों को 22 जनवरी को सुबह 7 बजे फांसी दी जाएगी.

बता दें कि इस मामले में चार दोषियों में से एक के पिता ने फांसी को टालने का लिए इस मामले के इकलौते चश्मदीद के खिलाफ झूठी गवाही देने के आरोप में एफआईआर से जुड़ी उनकी मांग को अदालत ने सोमवार को खारिज कर दिया।

पहले दोषियों की पुनर्विचार याचिका हुई खारिज

हालांकि 19 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसला लेते हुए दोषियों की पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी थी। जिसके बाद दोषियों को फांसी की सजा देने की संभावना बढ़ गई है।

दोषियों के पास दो विकल्प

वैसे दोषियों के पास अब दो ही विकल्प बचे है- एक क्यूरेटिव अर्जी लगा सकता है दूसरा दया याचिका दे सकता है। लेकिन निर्भया गैंगरेप मामले को कोर्ट ने पहले ही जघन्यतम श्रेणी में रख दिया है जिससे दोषियों की सारी उम्मीदों पर पानी फेर गया है।

फांसी तख्त बढ़ाकर 4 किया गया
बताया जा रहा है कि जेल में सभी तैयारी पूरी हो चुकी है बता दें कि पहले फांसी के लिये 1 ही तख्त हुआ करता था, जिसे बढ़ाकर अब 4 कर दिया गया है। जेसीबी मशीन की सहायता से इस काम को जल्द पूरा किया गया है। इस मशीन की सहायता से तख्त और सुरंग दोनों बनाए गए है। तख्तों के नीचे सुरंग बनाई जाती है। सुरंग से ही मृत शरीर को बाहर निकाला जाता है।

अब तक न्याय का इंतजार
इससे पहले 16 दिसंबर 2012 को चलती बस में निर्भया के साथ गैंगरेप हुआ था। जिसमें अब तक न्यायिक प्रक्रिया के अंतिम चरण तक पहुंचने के बाद 4 दोषियों पर फांसी की सजा संभव नजर आ रही है
Share To:

Post A Comment: