तीन माह का मिल सकता है एक्सटेंशन, सीएम योगी से चर्चा, गृह विभाग ने केंद्र को भेजी फाइल
लखनऊ । उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह को तीन माह का सेवा विस्तार मिल सकता है। डीजीपी ओपी सिंह 31 जनवरी को रिटायर हो रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से चर्चा के बाद गृह विभाग ने डीजीपी के एक्सटेंशन की फाइल केंद्र सरकार को भेजी।
डीजीपी ओपी सिंह वर्ष 1983 बैच के आइपीएस अफसर हैं। 31 जनवरी 2020 को रिटायर हो रहे हैं। रिटायरमेंट के बाद वह अपने लिए एक अगले ठिकाने की तलाश में हैं। बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश डीजीपी ओपी सिंह मुख्य सूचना आयुक्त के पद की दौड़ में शामिल हैं। राज्य के मुख्य सूचना आयुक्त जावेद उस्मानी 16 फरवरी 2020 को रिटायर हो रहे हैं। रिक्त हो रहे इस पद पर नियुक्ति के लिए सरकार ने 20 दिसंबर तक आवेदन मांगे थे। खबरों के मुताबिक, प्रशासनिक सुधार विभाग में इस पद के लिए करीब 50 आवेदन पत्र जमा हुए हैं, जिनमें एक आवदेन उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह का भी है। उत्तर प्रदेश में मुख्य सूचना आयुक्त के अलावा सूचना आयुक्त के 10 पद और रिक्त हो रहे हैं।
इसी बीच यह सूचना है डीजीपी ओपी सिंह अब 30 अप्रैल को सेवानिवृत्त होंगे। बताया जा रहा है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अभी उनको रिटायर नहीं करना चाहते हैं। डीजीपी ओपी सिंह सेवा विस्तार पर मुख्यमंत्री योगी से गृह विभाग की चर्चा हुई है। जिसके बाद गृह विभाग ने सेवा विस्तार की फाइल केंद्र को भेज दी है। इस फाइल में डीजीपी के तीन माह के एक्सटेंशन बारे में संस्तुति की गई है।
Share To:

Post A Comment: