रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार के साथ में रुड़की से इरफान अहमद की रिपोर्ट
9410563684


एक शख्स के दोस्तों ने उसकी पत्नी के साथ बंदूक की नोक पर सामूहिक बलात्कार की घटना को अंजाम दे डाला. वारदात के वक्त महिला घर में अकेली थी.

पीड़ित महिला का पति जेल में बंद
घर में घुसकर किया गया गैंग रेप
आरोपियों ने की हत्या की कोशिश
चारों आरोपी घटना के बाद फरार
उत्तर प्रदेश के बरेली शहर से एक शर्मनाक ख़बर सामने आई है. जहां एक शख्स के दोस्तों ने उसकी पत्नी के साथ बंदूक की नोक पर सामूहिक बलात्कार की घटना को अंजाम दे डाला. वारदात के वक्त महिला घर में अकेली थी. ठीक उसी वक्त चार आरोपी महिल के घर पहुंचे और उसे बंदूक दिखाकर उसके साथ बारी-बारी से बलात्कार किया. विरोध करने पर आरोपियों ने महिला का गला काटने की कोशिश भी की. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है.

गैंग रेप की यह घटना बरेली शहर के सिरौली इलाके की है. पीड़िता महिला ने रविवार को पुलिस थाने जाकर इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस को दी गई शिकायत के मुताबिक चार आरोपी, जो उसके पड़ोसी हैं, उसके घर उस वक्त आ धमके, जब वह अकेली थी. उन चारों ने उस पर बंदूक तान दी और डर दिखाकर उसके साथ बारी बारी से दुष्कर्म किया.

आईएएनएस की रिपोर्ट के अनुसार जब महिला ने उनका विरोध किया तो आरोपियों ने उसका गला काटने की कोशिश भी की, लेकिन वह किसी तरह से बच गई और शोर मचा दिया, इसके बाद चारों आरोपी मौके से भाग निकले. जाने से पहले, आरोपियों ने घटना की शिकायत करने पर पीड़ित महिला को इसके गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी.


घटना के बाद पीड़ित महिला खुद रविवार को बरेली के पुलिस अधीक्षक (अपराध) आर.के. भारतीय से मिली और उन्हें घटना की जानकारी देते हुए तहरीर भी दी. भारतीय ने घटना की जांच करने और प्राथमिकी दर्ज करने के लिए सिरौली पुलिस स्टेशन के एसएचओ संजय गर्ग को आदेशित किया.

जानकारी के मुताबिक पीड़िता का पति एक किलो हशीश के साथ पकड़ा गया था. पकड़े जाने के बाद इस समय वह मुरादाबाद जिला जेल में बंद है. महिला ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि एक आरोपी ने उसके पति के खिलाफ साजिश रची थी और उसे मादक पदार्थों की तस्करी के मामले में गिरफ्तार करा दिया.

पुलिस अधिकारी ने बताया "हमने आईपीसी की धारा 376डी (सामूहिक दुष्कर्म), धारा 452 (नुकसान पहुंचाने के इरादे से घर में जबरन घुसने) और धारा 307 (हत्या का प्रयास करने) के तहत चारों आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. हमने महिला को मेडिकल जांच के लिए भेजा है और रिपोर्ट का इंतजार है. सभी आरोपी उसके पति के परिचित हैं और घटना के बाद से ही फरार हैं. हमने उन्हें गिरफ्तार करने के लिए टीम गठित की हैं.
Share To:

Post A Comment: