सहारनपुर । अखिल भारतीय गौरक्षा महासंघ ने एक ओर प्रभावशाली कार्य करते हुए यह साबित किया है कि मुस्लिम संगठन भारत में गौरक्षा के लिये सदैव निष्ठां के साथ खड़े हैं ।
अखिल भारतीय गोरक्षा महासंघ के मण्डल अध्यक्ष चौधरी इमरान अंसारी को सूचना मिली कि एक  गाय के नवाब गंज  रोड स्तिथ मे मृत पड़ी है। सूचना मिलते ही इमरान अंसारी व उनके साथी मौके पर पहुँचे और मृत पड़े गाय को ट्रक द्वारा में उठाकर कर रायवाला स्तिथ प्रताप नगर में अखिल भारतीय द्वारा बनाया गया कब्रिस्तान में दबाने को ले गए। अखिल भारतीय महासंघ के मण्डल अध्यक्ष व उनके अन्य साथियों द्वारा लाए गए सामान जैसे सफेद कफन, व नमक आदि  और कई अन्य सामान जो जरूरत होती उन सब का इंतेजाम किया। इसके बाद गाय को दफन कर एक बार फिर मुस्लमान गौरक्षक होने का कर्तव्य निभाया है। 
*इस कार्य में नगर आयुक्त महापौर संजीव वालिया, डॉ गीता राम अमित तोमर शराफत ड्राइवर और नगर निगम की टीम का एक बड़ा सहयोग रहा। अखिल भारतीय गौ रक्षक महासंघ गाय के इस कार्य में नगर निगम का शुक्रगुजार है*
 चौधरी इमरान अंसारी मंडल अध्यक्ष यूपी कार्यालय जमा मस्जिद पालिका बाजार सहारनपुर गाय का गोश्त पकड़वाने वाले को 2000 रुपये इनाम दिया जाएगा । गाय की हत्या करने वालों को फांसी की सजा हो क्योकि कुरान शरीफ में लिखा है गाय का गोश्त बीमारी है दूध और घी शिफा है ।
 इस मौके पर अखिल भारतीय महासंघ के महामंत्री नफीस अंसारी, जिला उपध्यक्ष अफजाल अहमद, जिला मीडिया प्रभारी बहार अहमद, समाजसेवी नाजिश, जेसीबी ड्राइवर फैसल, शराफत, मौ. हसन, नूर मिस्त्री,अब्बास, गौरव, अनुज कुमार, सूर्यनागवंशी, ऋषिपाल, अंकित कुमार, फरमान, सचिन कुमार, अफजाल अहमद, उस्मान मंगुरी, मो मुकीम, तन्सीर, अनूप डब्बू, दिलशाद गोड़ आदि का भी सहयोग रहा ।
अंत में उन्होंने यह भी बताया की इस कार्य से विपक्ष पार्टिया कर रही है उनपर झूठे मुकदमे और इस पद को छोड़ने व जान से मारने की धमकी उनको रोजाना दी जा रही है इमरान अंसारी ने यह भी कहा की ये जो कार्य करते है इसके कारण उन पर दो बार जान लेवा हमले भी हो चुके है इमरान ने बतया की उन पर  इतने मुकदमे इसलिए किये जा रहे है की वो इस कार्य को छोड़ जिला बदर हो जाए ।
Share To:

Post A Comment: