रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार
9410563684



                                  इस दौरान उन्होंने मुख्य साजिशकर्ता समेत किराये के तीन शूटरों के गिरफ्तार होने की जनकारी दी।
एसएसपी हरिद्वार सैंथिल अवुदई कृष्ण राज एस ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि 5 फरवरी की देर रात्रि करीब 12 बजे अज्ञात युवकों ने गोकलपुर निवासी सतेंद्र पर जानलेवा हमला कर दिया था। तभी घटना की जानकारी झबरेड़ा पुलिस को मिली, तो क्षेत्र में गश्त कर रहे
झबरेडा थानाध्यक्ष रविन्द्र साह टीम के साथ तुरंत घटना स्थल पर पहुंचे और घायल को अपनी गाड़ी में डालकर सिविल अस्पताल रुड़की लेकर आय, जहा चिकित्सकों ने उसकी हालत को गंभीर देखते हुए उसे ऋषिकेश एम्स के लिए रेफर कर दिया। उनके निर्देश पर इस घटना के अनावरण को लेकर पुलिस टीम का गठन किया गया। पुलिस टीम को सूचना मिली कि मिरगपुर गांव निवासी सुरेश पाल पुत्र गिरवर की इस घटना में संलिप्तता सामने आई, पूछताछ के दौरान अभियुक्त सुरेश ने बताया कि सुभाष का परिवार उसके पास मजदूरी करने आता है ओर उससे पैसे भी ब्याज पर लिए हुए है, इसी बीच जब उसने पैसे मांगने शुरू किए तो सुभाष ने कहा कि वह कुछ दिन ओर रुक जाये, जब सुरेश को लड़की के लिए रिश्ते की बात पता लगी, तो उसने सुभाष के सामने उसकी लड़की का अपने साथ रिश्ता करने की बात कही, जिसे सुभाष ने मना कर दिया। इस पर सुभाष के लड़के सतेंद्र ने भी खुलकर विरोध किया। इस पर सुरेश ने सत्येंद्र को मारने की नीयत से सलमान उर्फ दौलत, फईम, टिंकू उर्फ प्रदीप को 35 हजार रुपए की सुपारी दे दी ओर 5 फरवरी की रात्रि सुभाष के घर भेज दिया। उक्त बदमाश घर में घुस गए और सत्येंद्र पर हत्या के उद्देश्य से दो फायर किए,साथ ही उसकी माँ से भी मारपीट की। घटना के समय सुरेश बाहर रेकी कर रहा था। उसके बाद 21 फरवरी को फिर सुरेश ने उन्हें डराने के उद्देश्य से गुल्लू नामक व्यक्ति के नाम एक चिट्ठी लिखवाई, जब उक्त तीनों बदमाश दोबारा सत्येंद्र के घर गए, तो वहां उन्होंने पाया कि उनके घर पर पुलिस लगी हुई है। अभियुक्त सुरेश की निशानदेही पर सलमान उर्फ दौलत, फईम, टिंकू कुमार को गोकलपुर यात्री शेड से गिरफ्तार कर लिया। उनके कब्जे से एक-एक अदद तमंचा 315 बोर, दो दो कारतूस बरामद किए। उन्होंने बताया कि उक्त शूटरों पर अन्य कई मुकदमे दर्ज है, तथा अभियुक्त सुरेश भी 302 का आरोपी है। एसएसपी ने टीम को अपनी ओर से 2500 रुपए का नगद इनाम देने की घोषणा की। टीम में थानाध्यक्ष रविन्द्र साह, दरोगा मनोज कुमार, अर्जुन कुमार, कॉन्स्टेबल सुंदर, विकास, सोनू कुमार, नूरहसन, नरेश चंद, अंजलि व सीआईयू व रविन्द्र कुमार प्रभारी, देवेंद्र भर्ती एचसीपी, कॉन्स्टेबल जाकिर, नितिन, अशोक, महिपाल, रविन्द्र आदि मौजूद रहे।
Share To:

Post A Comment: