रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार के साथ में रुड़की से नसीम मलिक की रिपोर्ट
9410563684

                   कल दिनांक 14 फरवरी 2020 को अज्ञात अभियुक्त के विरुद्ध धारा 386 आईपीसी का अभियोग पंजीकृत कराया गया था। दौरानी विवेचना कॉल करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया, जिसका नाम सलमान उर्फ मिट्ठू पुत्र इकरार निवासी कच्ची सड़क मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश है, को आज दिनांक 15 फरवरी 2020 को गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्त सलमान द्वारा पूछताछ पर बताया गया है कि वह पिछले 3 साल से मुजफ्फरनगर जेल में बंद था, जहां उसकी मुलाकात प्रवीण वाल्मीकि के भतीजे मनीष उर्फ बॉलर से हुई जो प्रवीण बाल्मीकि के गैंग का सक्रिय सदस्य है। सलमान दीपावली के आसपास जमानत पर रिहा हुआ तो मनीष द्वारा  उसे 50 हजार रुपये देने की बात कहकर 5000 रुपये एडवांस देकर बताया गया कि तू कहीं दूर जाकर फर्जी सिम और मोबाइल की व्यवस्था कर रुड़की के व्यापारी को प्रवीण बाल्मीकि को पैसे देने तथा न देने पर गोली मारने की धमकी दे देना। इस पर सलमान के द्वारा तय योजना के अनुसार रुड़की के व्यापारी को धमकी दी गई थी। अभियुक्त सलमान को गिरफ्तार करते हुए विवेचना में प्रवीण बाल्मीकि तथा उसके भतीजे मनीष उर्फ बॉलर का नाम प्रकाश पर आने के कारण उनके विरुद्ध भी कार्यवाही की जाएगी। दोनों अभियुक्तों को वारंट B पर माननीय न्यायालय तालाब कर रिमांड पर लिया जाएगा। गिरफ्तार अभियुक्त सलमान को आज माननीय न्यायालय द्वारा 14 दिन के न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया है।
Share To:

Post A Comment: