रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार
9410563684
जिसमें संत मैनपाल दास जी आश्रम छछरौली यमुनानगर से पधार रहे हैं साथियों हमारे ट्रस्ट का मकसद है महान संत गुरु रविदास जी की विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाना जो
सामाजिक भेदभाव का विरोध
संत रविदास ने अपने दोहों व पदों के माध्यम से समाज में जागरूकता लाने का प्रयास भी किया। सही मायनों में देखा जाए तो मानवतावादी मूल्यों की नींव संत रविदास ने रखी। वे समाज में फैली जातिगत ऊंच-नीच के धुर विरोधी थे और कहते थे कि सभी एक ईश्वर की संतान हैं जन्म से कोई भी जात लेकर पैदा नहीं होता। इतना ही नहीं वे एक ऐसे समाज की कल्पना भी करते हैं जहां किसी भी प्रकार का लोभ, लालच, दुख, दरिद्रता, भेदभाव नहीं हो।
ऐसा चाहू राज में जहां मिले सबन को अन
छोटे-बड़े सब सम बसें रविदास रहे प्रशन

गुरु रविदास आश्रम बिहारीगढ़ मेन रोड टका भरी हरिद्वार 2 मार्च समय सुबह 10:00 बजे सभी साथ संगत आमंत्रित हैं
Share To:

Post A Comment: