रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार के साथ में रुड़की से इरफान अहमद की रिपोर्ट
9410563684



 बरेली- राजधानी दिल्ली व लखनऊ से चलकर बरेली, फतेहगंज पश्चिमी व मुरादाबाद, देहरादून, हरिद्वार जाने व इसी मार्ग से लौटने वाले यात्रियों को अब रोडवेज बसों के चालक फतेहगंज पश्चिमी के बाईपास पर उतारने की हिमाकत नहीं कर सकेंगे। उन्हें फतेहगंज पश्चिमी के अंदर निर्धारित बस स्टैंड पर ही उतारना होगा। यात्रियों को परेशान करने वाले चालकों की मनमानी पर यह अंकुश ब्यापारी व भाजपा नेता आशीष अग्रवाल की पहल पर लगा है। परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने व्यापारी को पत्र भेजकर रोडवेज बसों को बाईपास से गुजरने पर रोक लगाई है।
ऐसे परेशान होते हैं यात्री
निगम की बसें दिल्ली व लखनऊ से बरेली मुरादाबाद, देहरादून, हरिद्वार की ओर चलती हैं। इसी मार्ग से ये बसें वापस लौटती हैं। इनमें से अधिकांश बसों के चालक अव्वल तो फतेहगंज, पश्चिमी के यात्रियों को बस में बैठाते ही नहीं। यदि किसी तरह बैठा भी लें तो उन्हें बाईपास पर ही उतार दिया जाता है। दरअसल, चालक कस्वे के अंदर निर्धारित बस स्टेशन पर न जाकर मनमर्जी से बसों को शहर व कस्वे के बाहरी हिस्सों में बने बाईपास से ही निकाल लेते हैं। रात्रि में आवाजाही का साधन उपलब्ध नहीं होने के कारण यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचने में काफी असुविधा होती है। मुरादाबाद, बरेली, शाहजहांपुर, हरदोई एवं सीतापुर आदि जाने वाले यात्रियों को भी भारी परेशानी होती है।
यह था मामला
कस्बे के व्यापारी व भाजपा नेता आशीष अग्रवाल ने अभी एक हफ्ते पहले परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह से इस संबंध में शिकायत की थी। जिसके संबंध में परिवहन मंत्री ने व्यापारी व भाजपा नेता को पत्र भेजकर बाईपास से रोडवेज बसों के गुजरने पर रोक लगाई है।।
Share To:

Post A Comment: