रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार
 9410563684



                     इस पर पुलिस ने विवाहिता को महिला हेल्पलाइन में अपनी शिकायत दर्ज कराने की बात कहकर मामले को शांत कराया।
मिली जानकारी के अनुसार पूजा वर्मा पुत्री पवन वर्मा निवासी ब्रिजपुरी दिल्ली का विवाह दो वर्ष पूर्व राजपुताना निवासी रोहित वर्मा पुत्र अवनीश वर्मा के साथ 27 मई 2019 को हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार हुआ था। पीड़ित विवाहिता ने बताया कि शादी के बाद से ही उसका पति रोहित, सास, ससुर व ननंद उसे दहेज आदि के लिए प्रताड़ित करते आ रहे थे। कई बार उसके ससुरालियों ने उसे मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया था। जिसके बाद पीड़िता ने आरोपी ससुरालियों के खिलाफ गंगनहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। मामला तूल पकड़ता देख उसके ससुरालियों ने पीड़िता को यह आश्वासन देकर, कि भविष्य में उसके साथ कोई दुर्व्यवहार नही होगा और वह उसे सम्मानपूर्वक अपने परिवार का हिस्सा मानेंगे, एक समझौते पत्र पर हस्ताक्षर करा लिए, जबकि उन्होंने पत्र में उसे गुमराह कर स्वेच्छा से समझौता करना लिखवा लिया। कुछ ही दिन इस बात को बीते थे, कि ससुरालियों ने उसे फिर से परेशान करना शुरू कर दिया। मंगलवार की देर रात्रि भी ससुरालियों ने उसे मारपीट व गाली गलौज कर घर से बाहर निकाल दिया। जिसके बाद पीड़िता चौकी पर पहुँची ओर अपनी पीड़ा सुनाई। इस पर पुलिस ने पीड़िता को जांच कर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। बताया गया है कि दो वर्ष पूर्व फेसबुक के जरिये दोनों के बीच प्रेम प्रसंग शुरू हुआ था। बाद में दोनों ने मर्जी से शादी कर ली थी। बाद में मामले की जानकारी लेने मेयर गौरव गोयल भी मौके ओर पहुंचे और पीड़िता को इंसाफ दिलाने का आश्वासन दिया।
Share To:

Post A Comment: