कॉविड 19 यानी कोरोना का सितम पूरे देश में बरकरार है। लोग इससे परेशान है सरकार को समझ नहीं आ रहा कैसे इससे निपटा जाए। देश में कई चीजों की जरूरत है जिनकी पूर्ति सिर्फ सरकार नहीं कर सकती। लेकिन वो सभी चीज़े आम जिन्दगी के लिए बहुत महत्व रखती है क्योंकि उन्ही की बुनियाद पर ज़िन्दगी अब टिकी हुई है। कहीं लोगों के पास खाने के लिए राशन नहीं है और कहीं कुछ लोग इतने मजबूर है कि अपने लिए दवाई भी इक्कठा नहीं कर पा रहे। और ऐसे में लोगों की मदद के लिए हाथ आगे आए है पल्सस हैल्थटेक के मालिक डॉक्टर श्री नुबाबू गेडेला का जिन्होंने आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में 5000 लोगों को कोरोना से लडने के लिए राहत सामग्री प्रदान की। इस राहत सामग्री कोरोना से लडने में मददगार पी.पी. ई किट, एन 95 मास्क, हैंड सैनिटाइजर, और खाने पीने का सामान मौजूद था जो 5000 लोगों में बाटा गया। इस मौके पर आंध्र में सरकार चलाने वाली पार्टी वाई. एस.आर. सी. पी के पार्लियामेंट्री चीफ विजय साई रेड्डी, मंत्री अवंती श्रीनिवास, पल्सस कंपनी के डायरेक्टर गेडेला शंकर राव भी मौजूद थे। ऐसे मुश्किल समय में इस तरह लोगोंको मदद करना हम सबको इंसानियत सीखाता है। जबतक इंसान इंसान के काम आता रहेगा तब तक इंसानियत इस धरती पर ज़िंदा रहेगी चाहे फिर कोई देश हमला करे या फिर कोरोना।
Share To:

Post A Comment: