रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार
 9410563684


जहां एक और विश्व में कोरोना वायरस ने वैश्विक महामारी का रूप ले लिया है, वही जगह-जगह हिंदुस्तान के आयुर्वेदिक चिकित्सकों का दावा है कि कोरोना को जड़ से समाप्त करने के लिए आयुर्वेदिक औषधि बेहद कारगर सिद्ध होगी।
ऐसा ही एक दावा रुड़की के सुप्रसिद्ध आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. वैद्य टेक वल्लभ ने भी किया। उन्होंने एक ब्यान जारी करते हुए कहा कि कोरोना से ज्यादा घबराने की जरूरत नही है। आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति में इसका बेजोड़ ईलाज है। उन्होंने कहा कि जहाँ एलोपैथिक चिकित्सा पद्धति इस रोग से लोगों को उबारने में पिछड़ रही है, वही आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति से कोरोना वायरस के प्रभाव को खत्म किया जा सकता है। साथ ही कहा कि इस वायरस की चार स्टेज होती है। अंतिम स्टेज में कुछ मुश्किल जरूर होती है, लेकिन उसका इलाज भी संभव है। उन्होंने कहा कि प्राचीन काल से ही भारत ने दुनिया को आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति से नये-नये चमत्कार करके दिखाये है, यही कारण है कि दुनिया में आज भी भारत अनोखी पहचान रखता है। साथ ही बताया कि आजकल एल्कोहल से बने सैनिटाइजर को लोग इस्तेमाल कर रहे है, जिसके ज्यादा इस्तेमाल से स्किन प्रभावित होने का खतरा बना रहता है। लोगों को इससे निजात दिलाने के लिए उन्होंने आयुर्वेदिक सैनिटाइजर बनाया, जिसे उनकी टीम पिछले दो दिनों से लगातार लोगों को वितरित कर रही है। उन्होंने बताया कि आयुर्वेदिक सैनिटाइजर के प्रयोग से स्किन भी स्वस्थ रहेगी और वायरस का प्रभाव भी नही पड़ेगा। उनके इस प्रयास की क्षेत्र के लोगों ने मुक्तकंठ से प्रशंसा की।
Share To:

Post A Comment: