बहराइच रमेश कुमार विश्वकर्मा -उत्तर प्रदेश बहराइच,
,बिकास खंड नबाबगंज ग्राम पंचायत भक्तापुर गुलरिया के  पात्र गृहस्थी  राशन कार्ड यूनिट के हिसाब से नहीं दे रहा कोटेदार, राशन  , ऐही नहीं  आन्तोदय  कार्ड धारकों को भी  सही मानक के हिशाब नहीं दे रहा है राशन  शिकायतकर्ता  नौव्वा गांव भक्तापुर गुलरिया का है  जहा गाँव के लोग इस समय कोराना  वायरल लाकडाउन के चल रहे के कारण भुख के कागार पर है, नौव्वा गाव के  राशन कार्ड धारक,श्री मती जयतुन, पत्नी, फारुख  काड सख्या, 218040989196, है (2) श्री मतीः जयदुलानिशा (  s)  इस्लाम कार्ड सख्या 218040091310 है इनका राशन कार्ड  पर (7 )युनूट है लेकिन जयदुलानिशा का कहना है कि कोटेदार केवल  20 किलो राशन देते हैं,,,,, लेकिन सरकार द्वारा आदेशानुसार,,, 1,, यूनिट 5  केजी राशन देने का आदेशसीत मानक है फिर भी मानक का कोई मतलब नहीं है कोटेदार के लिए ये ही नहीं श्री मतीः अमीना,,,   s,,,    अमीन   राशन कार्ड नबंर 218040092489 है  जिस पर पाच यूनीट है लेकिन 10 किलो केवल राशन कोटेदार देते हैं और बात करने कहते हैं कि हम इतना ही राशन कार्ड पर देगें,,,,, जुगधा         पत्नी,छब्बू  काड नबंर  218041437038 है,,, (8) युनूट है लेकिन जुगधा का कहना है कि हमसे कोटेदार ने  काई बार राशन कार्ड बनाने के लिए पैसा भी लिए है कभी 300  सौ  रुपये कभी 200 रुपये ये कहकर की तुम्हारा आन्तोदय राशन कार्ड बनवा देगें लेकिन आज तक आन्तोदय राशन कार्ड नही बनवा कर दिया  ये ही नहीं श्री मतीः साकरुन  पत्नी, मुबारक राशन कार्ड नबंर 218040417496 है जिस पर (7) यूनीट है यानि 35 किलो राशन के प्रत्र है लेकिन साकरुन का कहना है कि हमें केवल ,,,,25 ,,,, किलो राशन कोटेदार देते हैं इन कार्ड धारकों का कहना है कि कोई बार ग्राम पंचायत के प्रधान से भी कहा लेकिन कोई धियान नहीं दिया अभी तक आज जब लाकडाऊन चल रहा है तो हम लोग राशन के लिए राशन बितरण सुन कर जब राशन लेने गये तो कोटेदार ने कहा कि आज हम अपने गाँव के लोगों को राशन दे रहे हैं तुम्हें कल राशन मिलेगा फिर जब आज राशन लेने गये तब कोटेदार ने राशन कार्ड के युनिट हिसाब से नहीं दिया  तब हम लोगो ने डायल नम्बर,,, 112,,, पुलिस को फोन करके अपनी सहयोग मागा कि साहब हमारे ग्राम पंचायत में ग्राम प्रधान वा कोटेदार मन मानी से राशन दे रहे हैं लेकिन डायल,,, 112 ने मौके पर पहुँच कर जी हाजुरी कर के चले गए तब हम लोगो ने  देश के चौथे अस्तम्भ कहा जाने वाला मिडिया को न्याय के लिए साहारा मागा  मिडिया ने भी हमलोग के आवाज को उठाया लेकिन उच्च अधिकारियों के तहत कोई  कोटेदार पर फर्क नहीं पडा ना ही कोटेदार ने राशन दिया     कोटेदार ने गाँव में आकर हम लोगो से बोला कि जो करना है करलो मै जीन जीन लोगों ने शिकायत किया है मै उन लोगो को राशन नहीं देगें अगर शिकायत करने वाले हमारे घर राशन कार्ड लेकर राशन लेने आये तो लाठी से मारेंगे,,,,,,, अब हम लोग किस के पास जये साहब किस के आगे हाथ पाव जोडे साहब किस अधिकारी से न्याय मागें कब तक हमारे बच्चे भुखे रहेगें साहब,,,
Share To:

Post A Comment: