रिपोर्ट उत्तराखंड प्रभारी जावेद अंसारी

ह्यूमन इफेक्टिव रिलीफ़ एडवांस ट्रस्ट द्वारा कोरोना वैव्श्रिक महामारी के कारण पैदा हुई आपदा-विपदा जैसी हालातों के मद्देनजर लॉकडाउन के दौरान गरीब, असहाय, बेसहारा, मज़दूरों, एवं ज़रूरतमदं परिवारों की मदद के लिए शुरू किया गया सेवा अभियान 42वें निरंतर जारी रहा।
ह्यूमन इफेक्टिव रिलीफ़ एडवांस ट्रस्ट के फ़ाउन्डर मुहम्मद अब्बास साबरी ने कहा है कि भूखे को खाना प्यासे को पानी देना ही सबसे बड़ी इबादत है। ह्यूमन इफेक्टिव रिलीफ एडवांस ट्रस्ट लॉकडाउन शुरू होने के बाद से ही भगवानपुर विधानसभा क्षेत्र में राशन किट वितरण की व्यवस्था कर रहा है। जो लॉकडाउन के आखरी दिन तक जारी रहेगा। राशन वितरण व भोजन सेवा में सहयोग करने वाले सभी समाज सेवियों का आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में ही समाज को सहयोग की आवश्यकता होती है और सामाजिक कार्यकर्ता होने के नाते मैं अपने कर्त्तव्य पालन कर रहा हूं और हम सबको मिलकर आगे आना चाहिए। और इस वक्त को हमें ईश्वर की तरफ़ से आज़माइश मान कर हर गरीब, असहाय, दिहाड़ी मजदूरो को चिन्हित करके उन तक आवश्यक खाद्य राहत सामग्री पहुंचाई जाए। ह्यूमन इफेक्टिव रिलीफ़ एडवांस ट्रस्ट भी बराबर राशन वितरित कर रहा है और राशन वितरित करने के साथ-साथ कोरोना वैव्श्रिक महामारी के फैलने के कारण एवं उससे बचाव के कारगार उपायों से भी लोगों को अवगत कराया जा रहा है।
ट्रस्ट के फ़ाउन्डर मुहम्मद अब्बास साबरी ने कहा कि इस समय हम सबको मिलकर ग़रीब बेसहारा लोगों की हर संभव मदद करनी चाहिए यहीं हमारी ज़िन्दगी का असल मक़सद है।
Share To:

Post A Comment: