रिपोर्ट जावेद अंसारी ब्यरो चीफ उत्तराखंड

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ज्वाईंट मजिस्ट्रेट रूड़की नमामि बंसल को ज्ञापन देकर बताया की वर्तमान में डीजल के दाम पैट्रोल से भी ऊपर पहुंच गए हैं।और पेट्रोल के दामों में भी वृद्धि हो रही हैं।अब धान की फसल बोने का समय है डीजल में मूल्य वृद्धि से किसानों को अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।  जब कच्चे तेल के दामों में लगातार गिरावट आ रही है तब पैट्रोल डीजल के मूल्यों को कम किया जाना चाहिए था। वहां केंद्र सरकार द्वारा टैक्स को बढ़ाना एवं राज्य सरकार द्वारा वैट को बढ़ाना क्या उचित है। सरकारों द्वारा एक्साइज ड्यूटी और वैट कम करना चाहिए था वहां बढ़ाया जा रहा है।  यह प्रदेश की जनता के साथ छलावा है वर्तमान संकट के समय में आवश्यकता थी सरकार को पेट्रोल डीजल को अपने अधीन रखकर न्यूनतम दामों में किसान, आम जनता को उपलब्ध कराना था, जिससे उन्हें कुछ राहत मिल पाती, लेकिन इसके विपरीत जनता को लूट कर बड़े-बड़े उद्योगपतियों के मुनाफे के लिए आज दामों को प्रतिदिन बढ़ाया जा रहा है।  इससे मालभाड़े में वृद्धि होगी, जिससे रोजमर्रा के आवश्यक वस्तुओं के दामों में भी वृद्धि होगी। ज्ञापन के माध्यम से मांग की गई कि हैं डीजल व पैट्रोल के मूल्यों में वृद्धि जनता के साथ धोखा है इस मूल्य वृद्धि को जल्द वापस लेकर न्यूनतम कीमत पर डीजल पैट्रोल उपलब्ध कराया जाए।और आम जनता को राहत देने का कार्य करे।

 इस दौरान ज्ञापन में कहा गया कि कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान एक ओर जहां आम आदमी का रोजगार छिन गया है वहीं दूसरी ओर पेट्रोल और डीजल के दामों में की जा रही मूल्यवृद्घि प्रदेश की जनता के ऊपर असहनीय हमला है। जिससे आम आदमी के हितों को अनदेखा किया गया है।ज्ञापन में
पिरान कलियर की दरगाहे खोले जाने की मांग कांग्रेसियों ने की हैं।

ज्ञापन देने वालो शामिल जसविंदर जस्सी ,शहजाद अंसारी ,राकिब नसीम , जैनिस सैनी ,आशु अंसारी ,रोहित सैनी आदि मौजूद रहे।
Share To:

Post A Comment: