रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार
 9410563684


                योगेश राघव ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से लगातार इस स्कूल के अधिक से अधिक अभिभावकों से मिलकर उन्होने उनकी समस्त समस्याओं को विस्तारपूर्वक सुना है । और सभी से बातचीत करने के बाद यह बात सामने निकलकर उनके समक्ष आई ,अधिकतर अभिभावक स्कूल की ऑनलाइन पढ़ाई से असंतुष्ट हैं और अनैतिक तरीके से व्यक्तिगत रूप से फोन कर फीस जमा करने के लिए  बनाये जा रहे दबाव के लिए स्कूल प्रबंधन के खिलाफ काफी रोष मे है । अभिभावकों  से बातचीत कर उनके द्वारा बताये गये कुछ महत्वपूर्ण बिन्दु जो निम्नलिखित हैं
1. स्कूल प्रबंधन द्वारा लाकडाउन के अन्तर्गत दी जा रही ऑनलाइन पढाई (वाहटहप के माध्यम से गत वर्ष के विद्यार्थी की चेक की गई काॅपी की फोटो खींचकर) दी जा रही है। जो शिक्षा ऑनलाइन के दायरे में नहीं आती ।
2. पहले अभिभावकों से अप्रैल से जून तक तीन माह का शुल्क का मैसेज भेज-भेजकर देने के लिए दबाव बनाया जा रहा है और अब स्कूल प्रबंधन एक एक अभिभावकों को फोन करके दबाव बना रहा है ... और कहता है कि आप फीस देने मे सक्षम हैं आप फीस जमा कीजिए ।
3. आजकल स्कूल प्रबंधन द्वारा बच्चों को स्कूल बुला-बुलाकर स्कूल में रजिस्ट्रेशन की प्रकिया की जा रही है जो शासन आदेशानुसार कि कोई भी स्कूल 31  जुलाई तक बच्चों स्कूल मे नही बुला सकता नियम की सीधे-सीधे अवेहलना है
4. बच्चों को स्कूल बुला-बुलाकर स्कूल में काॅपी चेक करने प्रकिया की जा रही है जो कि नियमों  की सीधे-सीधे अवेहलना है। उपरोक्त सभी बातें स्कूल प्रबंधन द्वारा शासन प्रशासन और सीधे-सीधे माननीय उच्च न्यायालय के आदेश की अवेहलना हैं। अभिभावक गण सभी एक मत है कि वह तीन माह का शुल्क नही देगे  सभी ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ आर पार की लड़ाई का आवहन किया। वरिष्ठ समाजसेवी और पीस ऑफ इंडिया परिवार के राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रभारी उत्तराखंड उत्तर प्रदेश ,योगेश राघव ने जनहित की इस लडाई में अभिभावकों को अपना समर्थन देते हुए कहा है कि सभी अभिभावक एकजुट होकर उनका साथ दे ताकि शीघ्र अति शीघ्र स्कूल प्रबंधन पर उचित से उचित कार्रवाई हो सकें । योगेश राघव ने बताया कि अन्य कई और स्कूलों के अभिभावक भी इस अभियान उनके सम्पर्क में हैं अभिभावकों मे सुरेन्द्र सिंह भण्डारी, मीनू शक्ला, रजनी नेगी , ममता पंवार ,पूनम चौहान ,लक्ष्मी रावत, अर्चना नेगी, उदय धनोला, कुशाल भण्डारी, दीवान सिंह सजवाण, सरवजीत सिंह, कुशाल सिंह भंडारी आदि उपस्थित थे ।
Share To:

Post A Comment: