मेरठ । एक दिन पहले ही पत्नी और वकील के द्वारा सुप्रीम कोर्ट में जान की हिफाजत की गुहार लगाने वाले कुख्यात उधम सिंह के घर सोमवार को पुलिस ने पूरे दलबदल के साथ छापा मारा। खुद कप्तान अजय साहनी ने पुलिस की अगुवाई करते हुए कुख्यात का घर खंगाला। इस दौरान बड़ी संख्या में अवैध हथियार बरामद हुए। उधम सिंह के अलावा योगेश भदौड़ा और लीलू करनावल के घर भी खोजबीन की गई, वहां भी काफी संख्या में हथियार बरामद हुए ।
जबकि ऊधम सिंघ की पत्नी पुष्पा देवी का आरोप है की जब उसके पति पिछले नो साल से जेल में बंद है तो पुलिस किस आधार पर इस तरह की कार्रवाई कर रही है । पुष्पादेवी का सीधा आरोप है की पुलिस ने उनके और उनकी बेटी के साथ अभद्र व्वहार किया और गाली गलोज की,वहीं उन्होंने पुलिस पर सीधा आरोप लगाते हुए कहा की उनके घर से कोई असलाह नही  मिला,बल्कि ख़ुद पुलिसकर्मी अपने साथ तमंचे कट्टे लाए और उनके यहा से बरामदगी दिखायी ।

पुलिस पर अभद्रता और तोड़ फोड़ का आरोप ।
पुष्पादेवी ने आरोप लगाया की उनके घर से उनके CCTV तोड़ दिया गया और dvr पुलिस अपने साथ ले गयी जिससे पुलिस की करतूत का पता चल जाएगा।वही ऊधम सिंह की पत्नी ने पर गाली गलोज का इल्ज़ाम लगाते हुए कहा की पुलिसकर्मियों के साथ उनके घर में तोड़ फोड़ की ।

मामले की शिकायत मानव अधिकार में करेंगी ।
बता दें कि एक दिन पहले ही वेस्ट यूपी वेस्ट यू पी  के कुख्यात बदमाश उधम सिंह की पत्नी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर गुहार लगाई थी कि पुलिस उसके पति का फर्जी तरीके से एनकाउंटर  कर सकती है। पत्नी ने आरोप लगाया ​था कि पूर्व में भी उसके पति पर कई हमले हो चुके हैं जिसमें जैसे तैसे उसकी जान बची थी। मामले में कप्तान के यहां भी ज्ञापन दिया गया था। हालांकि इस संबंध में कप्तान (SSP) की ओर से तुरंत पुलिस का पक्ष साफ कर दिया गया था कि आजमगढ़ जेल में बंद उधम सिंह की मेरठ में कोर्ट में पेशी के दौरान पूरी सुरक्षा की जाएगी। इसके साथ ही उसके साथ आने वाले पुलिसकर्मियों को भी पूरी सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी। वहीं सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर होते ही वह पुलिस के निशाने पर भी आ गया। सोमवार को कप्तान अजय साहनी के नेतृत्व में भारी संख्या में पुलिस फोर्स ने उधम सिंह के सरूरपुर थाना क्षेत्र  के करनावल स्थित घर पर तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान उसके घर से बड़ी संख्या में अवैध हथियार बरामद हुए। जबकि उसकी पत्नी ने पुलिस कि कार्रवाई को गैरजरूरी बताया और अपने घर में तोड़ फोड़ और अभद्रता का आरोप लगाया साथ ही असलाह के बारे में उल्टा पुलिस को दोषी बताया कि पुलिस दल अपने साथ असलाह लाकर उनके घर से बरामदगी दिखा रहा है इसके लिए उधम सिंह की पत्नी ने कहा कि सीसीटीवी डीवीआर से साफ हो जाएगा जो पुलिस उखाड़ कर ले गयी है,ऊधम सिंह की पत्नी ने इस प्रकरण की शिकायत मानव आयोग में करने के लिए कहा है । उधम सिंह के साथ ही पुलिस ने लीलू करनावल के घर भी तलाशी अभियान चलाया, यहां भी काफी संख्या में अवैध हथियार बरामद हुए। इसके बाद पुलिस ने भदौड़ा गांव स्थित कुख्यात योगेश भदौड़ा के घर भी छापेमारी की वहां भी बड़ी संख्या में अवैध हथियार बरामद हुए। पुलिस के अनुसार कुछ दिन पहले ही परमपवीर तुगाना की गैंगवार के दौरान हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद दोबारा गैंगवार छिड़ने की आशंका है, इसलिए जिले के कुख्यात बदमाशों के खिलाफ शिकंजा कड़ा कर दिया गया है। तलाशी अभियान देर शाम तक जारी रहा। कप्तान अजय साहनी ने बताया कि काफी दिनों से इन बदमाशों के खिलाफ सूचनाएं मिल रही थीं। इस बात की भी आशंका थी कि बदमाशों के बीच आपसी गैंगवार भी शुरू हो सकती है। इसलिए इनके खिलाफ कार्रवाई की गई है, जांच के दौरान पुलिस को काफी संख्या में अवैध हथियार बरामद हुए हैं। इस मामले में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है ।
Share To:

Post A Comment: