संवाददाता मोहम्मद सिराज


लखीमपुर खीरी मैं  निजी अस्पताल में पैसे पैदा करने का खेल जारी नहीं ले रहे हैं कोई अधिकारी इसकी सुध लोगो से खिलवाड़ करते नज़र आ रहे है जहाँ पूरा देश कोरोना से लड़ रहा है इन्हें लोगो की जान से खेलते मज़ा आ रहा है अस्पतालों मैं कोरोना के बचाव के लिए कोई सुविधा नही स्टाफ भी बगेर  मास्क के है सेनेटाइजर तो छोड़ ही दो हाथ धुलने के लिए साबुन और पानी की सुविधा नही बस मरीज़ों को लूटने मैं लगे है यहां के डॉक्टर अस्पतालों में जैसे कि मां जच्चा बच्चा हॉस्पिटल कई बार प्राथमिकता से अखबारों में खबरें छपी उसके बाद भी नहीं अधिकारियों की नींद खुल रही है अगर एक तरफ देखा जाए तो जिन जिन डॉक्टरों के नाम बोर्ड पर लिखे हैं वह डॉक्टर 1 दिन भी नहीं आते हैं और बिना डिग्री डॉक्टर के बड़े-बड़े ऑपरेशन हो जाते हैं जैसे कि मां बच्चा बच्चा हॉस्पिटल में कैमरा भी लगा हुआ है अगर स्वस्थ विभाग के अला अफसर अधिकारी एक बार हॉस्पिटल की रवैया देखें फिर उसके बाद कैमरा खंगाले तो खुद ही मालूम हो जाएगा कौन सी डिग्री धारक डॉक्टर यहां पर आते जाते  हैं मगर यह कोई अधिकारी नहीं करेगा गुलाबी नोट के कारण मगर एक बार फिर खबर प्रकाशित होने जा रही है सुर्खियों के साथ तो स्वस्थ विभाग के अला अफसर अधिकारी कौन सी कार्रवाई करेंगे हॉस्पिटल पर और उन में तैनात फर्जी डॉक्टरों पे ।
Share To:

Post A Comment: