गाजियाबाद । गाजियाबाद के डूंडाहेड़ा गांव विजयनगर से मजदूरी करने प्रताप विहार आए काम करते हुए एक मजदूर की मृत्यु हो गई थी । जब वह घर नहीं पहुंचा तो पत्नी अगले दिन ढूंढने निकली । ढूंढते हुए थाने गई तो वहां पता चला कि एक अज्ञात व्यक्ति की मृत्यु कल बेलदारी करते हुए हो गई थी । घरवालों का पता न चलने पर पुलिस वालों ने पोस्टमार्टम करा दिया था । जब महिला ने पहचाना तो दाह संस्कार कराकर महिला से साइन करा लिए । ठेकेदार ने कुछ पैसे देकर घर भेज दिया । महिला बहुत गरीब और 4 बच्चे होने के कारण मैं बहुत दुखी हुई कि आगे क्या करूं फिर आसपास के लोगों ने आनंद सेवा समिति संस्था की अध्यक्ष ममता सिंह को फोन किया । पीड़ित महिला का हाल जानने के लिए ममता सिंह वहां पहुंची और सारी घटना के बारे में जानकारी ली ।महिला ने सहयोग में कहा आप हमें बिहार जाने के लिए बंदोबस्त करा दीजिए । ट्रेन तो नहीं जा रही बिना रिजर्वेशन के बस में बहुत ज्यादा पैसा लग रहा है आप हमें टिकट के पैसे करा दें जिससे मैं अपने बच्चों को लेकर वापिस अपने गांव जा सकूं । 2 दिन का टाइम लेने के बाद कौन ठेकेदार था किसके यहां काम करने बेलदारी गया था यह सब पता करने के बाद कुछ ठेकेदार जहां काम करते हैं गिरे हैं मालिक के पास पार्षद जी के माध्यम से लोगों के माध्यम से महिला का घर जाने के लिए बंदोबस्त कराया । टिकट आदि देकर नगद पैसे देकर रास्ते में खाने का सामान देखकर सब ने मिलकर मजदूर के परिवार को बिहार पटना के लिए रवाना कराया । इस कााार्य के लिए सभी ने आनंद सेवा समिति संस्था को धन्यवाद दिया  कि उन्होंने इस नेक कार्य में सहयोग किया ।
तरीकत चौधरी
Share To:

Post A Comment: