रिपोर्ट संजय कुमार बर्मन


                               इन लोगों के घर में शौचालय और न ही रहने के लिए घर इन्होंने कई बार प्रशासन से भी गुहार लगाई हैं।प्रशासन की तरफ से अब तक इनकी कोई सुनवाई या कोई आश्वासन नहीं दिया गया हैं।अब यह लोग सड़कों पर आ गए हैं और आत्मदाह की शासन व प्रशासन को चेतावनी दे रहे हैं इनके ग्राम प्रधान द्वारा जनता का शोषण हो रहा है । गरीबों का पैसा जप्त किया जा रहा है ,प्रधान को कहते हैं। तो वह इधर उधर की बातें बता कर बात को रफा-दफा कर देता है और यह भी कह देता है कि तुम जहां तक भी चले जाओ तुम्हारी कोई सुनने वाला नहीं है और मैं अधिकारियों को पैसे देता हूं।
Share To:

Post A Comment: