रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार
 9410563684


                                                                       
बैठक में बोलते हुए एनएचआरसी के चेयरमैन डॉ. आनंद वर्द्धन ने कहा कि उनकी कमेटी गरीब, जरूरतमंद लोगों को हरसंभव मदद प्रदान कर रही हैं। इसके लिए भारतवर्ष में एक बड़ी मुहिम चलाई गई हैं, ताकि वंचित लोगों को न्याय मिल सके। साथ ही उन्होंने बताया कि एनएचआरसी के माध्यम से अन्य प्रदेशों की भांति उत्तराखण्ड में बच्चों को आगे बढ़ाने के लिए कौचिंग संस्थान खोले जा रहे हैं, जिनमें बच्चों के लिए आईएएस, आईपीएस, पीसीएस व जज की तैयारी कराई जायेगी, इसके लिए बच्चों को रिटायर्ड, जज, आईपीएस, आईएएस व अन्य अनुभवी लोगों का सहयोग मिलेगा। साथ ही बच्चों को इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स भी कराया जायेगा, ताकि वह लिखने और बोलने में सुधार ला सके। साथ ही उन्होंने कहा कि इन बड़े पदों की तैयारी अब बच्चों को दिल्ली, देहरादून, राजस्थान आदि प्रदेशों में जाकर नहीं करने पड़ेगी, बल्कि उनकी संस्था हरिद्वार में ही आर्टिकल-14 समता मूलक कौचिंग संस्थान के नाम से खोलने जा रही हैं। जिसमें गरीब परिवार के मेधावी बच्चे भी प्रतिभाग कर सकेंगे। साथ ही उन्होंने बताया कि यमुनानगर में भी संस्था की ओर से इस तरह का कौचिंग संस्थान शुरू कराया गया हैं। जिसमें सैकड़ों बच्चे अध्ययनरत् हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि एनएचआरसी के विस्तार को लेकर जल्द ही प्रदेश, जिले व मण्डल स्तर पर कमेटी का गठन किया जायेगा ताकि लोगों को उनके मौलिक, मानव और कानूनी अध्किारों के प्रति जागरूक किया जा सके। वहीं उत्तराखण्ड के डिप्टी कन्वीनर मो. आदिल फरीदी ने कहा कि यह संस्था तेजी के साथ काम कर रही हैं और कुछ माह के अंतराल में ही बड़े मुद्दों को लेकर संघर्ष किया, जिसमें संस्था ने बड़ी सफलता हासिल की और पीड़ितों को न्याय दिलाने का काम किया। बहरहाल कुछ भी हो, यह संस्था शहर के साथ ही देहात में भी लोगों को विश्वास जीतने में सफल हुई हैं। इस मौके पर चौ. मगन सिंह, प्रवीण चौधरी, आशीष चौधरी, जुल्फुकार, रिजवान, जनेश्वर त्यागी, लवी, मशरूर, आदिल कादरी, मोहित त्यागी आदि मौजूद रहे।
Share To:

Post A Comment: