रिपोर्ट ब्रह्मानंद चौधरी ब्यूरो चीफ हरिद्वार के साथ में रुड़की से इमरान देशभक्त की रिपोर्ट
9410563684


                   त्याग और बलिदान का प्रतीक यह त्यौहार सोशल डिस्टेंसिंग के चलते मस्जिदों व अपने-अपने घरों में ही सीमित दायरे में रहकर नमाज अदा की गई।नगर की प्रमुख ईदगाह में मुफ्ती मोहम्मद सलीम में ईदुलअजहा की नमाज अदा कराई तथा खुतबा पढ़ा।कुल पांच लोगों ने ईदगाह में नमाज अदा की।इसके अलावा नगर की प्रमुख जामा मस्जिद में भी ईदुलअजहा की नमाज अदा की गई तथा नगर की अन्य मस्जिदों में भी प्रातः सोशल डिस्टेंसिंग में रहकर मुस्लिम समाज के लोगों ने नमाज पढ़ी तो,वहीं अपने-अपने घरों में भी लोगों ने ईदुलअजहा की नमाज अदा की।इस दौरान लोगों ने देश में अमन-चैन,शांति तथा विश्व में कोरोना से मुक्ति की विशेष दुआएं की।आज से लगभग साडे चार हजार वर्ष पूर्व हजरत इब्राहिम व हजरत इस्माइल की याद में दिए गए त्याग के प्रतीक इस त्यौहार पर मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा जानवरों की कुर्बानी भी दी गई। मौलाना अरशद कासमी,मौलाना मजहरूल हक,मौलाना नसीम कासमी,शहर काजी अमीर अहमद ने व शायर अफजल मंगलोरी ईदुलअजहा हा पर अपनी शुभकामनाएं दी।
Share To:

Post A Comment: