ख़सरे से जागरूक रहकर भी बचा जा सकता है 

दुनिया मे लाखों लोगों की जान ले चुका कोरोना संक्रमण अभी खत्म भी नही हो पाया ।  वहींं अब देश पर ख़सरा संक्रमण का ख़तरा पैदा हो गया है । भारत सहित कई देश मे ख़सरा मुँह उठाने लगा है । 

विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO) के ताजा खबर में पता चला है 

की भारत सहित दुनिया के कई देशों में लगभग 2.07 लाख अभी तक इस बीमारी से मौत हो चुकी है । 

भारत मे अभी तक हुई ख़सरे से लाखों मौत केवल वेक्सिनेशन ठीक प्रकार से न लगने के कारण हुई । वेक्सिनेशन लगाने वाले स्वास्थ्य विभाग के कार्यकर्ताओं को उचित ट्रेनिंग का प्रवधान नही हुआ  और ना ही जनता को इस बीमारी के बारे में सही से अवेयरनेस किया गया । 


भारत मे इस बीमारी से अभी तक हुई मौत की वज़ह केवल वेक्सीन लगाने में ढिलाई मानी गई है । 

माना जा रहा है कि इस साल कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कोरोना की वेक्सीन के टीके लगाने में हो रही देरी के कारण हालात और भी ख़राब हो सकते है । 

एक रिपोर्ट से पता चला कि कोरोना की वजह से भारत सहित कई देशों ने बीमारियों का टीकाकरण का कार्य रोका था 

उनमे से आधे देशों में ख़सरे का प्रकोप फैल चुका है । 

ऐसे लगभग 20  देश है जो ख़सरे कि चपेट में है वो अगर हर देशों ने ख़सरे के प्रकोप पर लगाम नही लगाई तो इस बीमारियों से मरने वालो का आंकड़ा बड़ सकता है 

ओर सम्पूर्ण विश्व में इस साल खसरा वेक्सीन न लग पाने के कारण लगभग  9.4 करोड़ लोगो पर जोख़िम मंडरा रहा है ।

चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ एस के शर्मा का कहना है कि कोरोना के चलते हिंदुस्तान में अनेक बीमारियों के साथ साथ ख़सरे कि भी वेक्सीन के टीकाकरण बन्द होने के कारण 

देश मे लाखो मरीजो की संख्या बढ़ने की संभावना है । 

अगर देश मे कोरोना का प्रकोप बड़ा और लॉक डाउन बड़ा तो परिणाम बहुत भयावह स्थिति में जा सकते है । 

इस लिए हमें इस मौसम में छोटी छोटी बीमारियों के प्रति भी गम्भीर रहने की जरूरत है 

शरीर पर छोटे छोटे लाल दाने निकलने पर लापरवाही ना बरतें 

वो ख़सरे के लक्षण हो सकते है ।


ख़सरे को फैलने से रोकने के लिए हमे सावधान व जागरूक रहने की जरूरत है । 

 लक्षण 

1 शरीर पर लाल छोटे छोटे  व बड़े दाने या फफोले निकलना

2 शरीर पर लाल निशान होना

3 अधिक दिनों तक बुखार रहना 

एवं चक्कर ,घबराहट रहना

 बचाव

1 नियामित टीकाकरण 

2  शरीर पर दाने या फफोले निकलने पर तुरंत चर्म रोग विशेषज्ञ या फिजिसियन को तुरंत दिखाए 

3 ज्यादा तेज बुख़ार होने पर माथे पर  ठंडे पानी की पट्टी रखना । 

4 अपने डॉक्टर से सलाह लेकर ट्रीटमेंट तुरंत शुरू कराए 

5 ख़सरे वाले मरीज़ से ओर स्वस्थ बच्चे को डिस्टेंस बना कर रखे । 

6 ख़सरे वाले रोगी को ज्यादा तला भुना हुआ नही खाना चाहिए 

7 ज्यादा हरि व आ अंकुरित फल सब्जी खड्य सामग्री का ही प्रयोग करें । 


            डॉ एस के शर्म 

           चर्म रोग विशेषज्ञ

     मोदीनगर जिला गाजियाबाद

Share To:

Post A Comment: