क्षेत्रीय ग्राम विकास संस्थान इन्द्रगढी मे मंगलवार को रजापुर व भोजपुर ब्लॉक के ग्राम प्रधानों को ग्राम पंचायत  विकास योजना का प्रशिक्षण दिया गया। 

बुधवार को मुरादनगर व लोनी ब्लॉक के ग्राम प्रधानों को प्रशिक्षण दिया प्रशिक्षण ।

संस्थान के उप निदेशक डा सौरभ राजपूत, अपर जिला पंचायत राज अधिकारी मनोज कुमार त्यागी, गोपाल राय, जगवीर सिंह, हरि कृष्ण गुप्ता और मुनिबुर रहमान द्वारा दिया गया प्रशिक्षण।

सभी प्रशिक्षकों ने ग्राम प्रधानों से अब तक के उनके अनुभव के बारे मे ग्राम पंचायत विकास योजना को लेकर बात की। प्रभावी ग्राम पंचायत विकास योजना बनायी जा सकती है इस पर उनकी राय जानी। अब तक किस प्रकार की योजना बनाकर ग्राम प्रधान काम कर रहे थे इस पर चर्चा की गयी। ग्राम पंचायत विकास योजना के सिद्धांत व व्यवहार पर प्रकाश डाला गया। जरुरत के मुताविक वास्तविक धरातल पर उतरने वाली योजना बनाने के टिप्स दिये गये। मनोज कुमार त्यागी ने केरल मे भ्रमण के दौरान वहां पर अपने अनुभव को शेयर कियाकिया, उन्होने कहा की जागरुकता के साथ - साथ सहभगिता बढ़ाकर ही ग्राम पंचायतों को विकसित, स्वच्छ और सुरक्षित बनाया जा सकता है। व्यवहार परिवर्तन पर विशेष जोर दिया गया। गोपाल राय ने इस बात पर जोर दिया की विकास योजना मे जोखिम प्रबंधन का भी ध्यान रखना चाहिये तभी किकस सतत रह सकता है। जोखिम प्रबंधन का ध्यान न रखने पर विकास विनाश का भी कारण बन सकता है । प्रधानों के बाद ग्राम पंचायत सदस्यों को प्रशिक्षण दिया जाएग। सरकार की मंशा लोगों की जरुरत और भावनाओं के अनुरुप विकास को साकार करने और उनके विकास मे बाधक बनने वाले सभी कारकों को दूर करने की है ।

Share To:

Post A Comment: